Newsletter subscribe

headlines, देश, ब्रेकिंग न्यूज़, मुख्य समाचार, राज्य

बेंगलुरु से वापस दिल्ली भेजे गए 50 रेल यात्री

Posted: 15/05/2020 at 2:40 pm   /   comments (0)

नई दिल्ली। लॉकडाउन में फंसे लोगों के लिए बेंगलुरु जाने वाली स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस किसी वरदान से कम नहीं थी। लेकिन कुछ यात्रियों की जिद की वजह से उनकी मुश्किलें बढ़ गई। 50 यात्रियों को बेंगलुरु पहुंचकर भी वापस दिल्ली लौटना पड़ा। इन यात्रियों ने राज्य सरकार के Quarantine  संबंधी आदेश को मानने का विरोध करते हुए वापस दिल्ली भेजे जाने की मांग की थी। दिल्ली से चली स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस गुरुवार को लगग 1,000 यात्रियों के साथ बेंगलुरु पहुंची। गंतव्य स्टेशनों पर संबंधित राज्य सरकारों को ही वहां पहुंचने वाले यात्रियों के बारे में फैसला लेने का अधिकार है। बेंगलुरु में भी यही हुआ।

कर्नाटक सरकार ने बाहर से आनेवाले यात्रियों के लिए 14 दिनों के क्वारंटाइन का नियम तय किया हुआ है। इस वजह से वहां पहुंचने वाले रेल यात्रियों को स्टेशन से सीधे विभाग के क्वारंटाइन सेंटर्स में जाने को कहा गया। इसे लेकर ज्यादातर यात्रियों का अधिकारियों से विवाद हुआ हालांकि यात्री क्वारंटाइन में जाने के लिए तैयार हो गए, लेकिन 70 यात्रियों ने इसका विरोध कर दिया। इसके बाद स्थानीय प्रशासन ने उन्हें स्टेशन से बाहर आने से रोक दिया।

बाहर आने से रोके जाने के बाद यात्री नारेबाजी करने लगे और वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डालने लगे। प्रशासन ने उन्हें दिल्ली लौटने का विकल्प दिया, जिसे 50 यात्रियों ने स्वीकार कर लिया। हालांकि, 20 यात्री आखिरी वक्त में क्वरंटाइन में जाने के लिए तैयार हो गए।

देश में श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है। अब तक कुल 10 लाख से भी ज्यादा प्रवासियों को 800 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के जरिये उनके गृह राज्यों तक पहुंचा दिया गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक पैकेज की दूसरी किस्त जारी करते हुए बताया कि प्रवासी मजदूरों के लिए कुल 1,200 ट्रेनें तैयार खड़ी हैं। रेलवे को सिर्फ राज्य सरकारों के आग्रह और हरी झंडी की जरूरत है। उत्तर प्रदेश के विभिन्न शहरों के लिए सर्वाधिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया गया है।